Spread the love

LAUTAN BUDDHA PRIVATE I.T.I RULES

1. संस्थान दो पाली में चलता है | प्रथम पाली सुबह 7 बजे से 2 बजे दिन तक एवं द्वितीय पाली 10 बजे दिन से संध्या 5 बजे तक चलता है |

2. संस्थान में नामांकन के लिए 14 वर्ष से 40 वर्ष तक का उम्र 1 .8 .20 …..को होना चाहिए | हरिजन एवं आदिवासी छात्रों के लिए अधिकतम उम्र सीमा 45 वर्ष है |

3. संस्थान ठीक समय पर पहुँचे | संस्थान में पहुचने के पश्चात्त आप अपने ट्रेड में चले जाये | संस्थान अहाते में व्यर्थ घूमना, शोर मचाना उचित नहीं है |

4. प्रत्येक प्रशिक्षणार्थी को प्रतिदिन डायरी एवं पुस्तके साथ लानी है, बिना डायरी एवं पुस्तको के क्लास करने की अनुमति नहीं दी जाएगी|

5. अध्ययन काल में प्राचार्य के अनुमति के पश्चात्त ही अभीभावक, अनुदेशकों एवं प्रशिक्षणार्थी से मिल सकते हैं |

6. कोई भी प्रशिक्षणार्थी अध्ययन अवधि में अनुदेशक एवं प्राचार्य के अनुमति के बिना संस्थान को नहीं छोड़ सकते हैं |

7. प्रशिक्षणार्थियों की उपस्थिति 80 प्रतिशत से कम नही होना चाहिए | अन्यथा परीक्षा में सम्मिलित नहीं होंगे | जिसकी पूरी जिम्मेवारी प्रशिक्षणार्थी पर होगी |

8. अगर कोई प्रशिक्षणार्थी केंद्र में विलम्ब से पहुचता है तो अनुदेशक एवं प्राचार्य की अनुमति से ही क्लास में बैठ सकता है | अगर  प्रशिक्षणार्थी निरंतर विलम्ब से पहुचता है, तो तीसरी बार अभिभावक को साथ लाने पर क्लास करने की अनुमति दी जाएगी | 

9. संस्थान में प्रशिक्षणार्थी को 12 दिन का आकस्मिक अवकाश एवं 15 दिनों का मेडिकल छुट्टी दी जाती है | मेडिकल छुट्टी के लिए डॉक्टर  M .B .B .S .का प्रणाम- पत्र आवश्यक होगा, अन्यथा क्लास करने की अनुमति नहीं दी जाएगी | 

10. संस्थान से बिना सूचना के 10 दिन अनुपस्थित होने पर नाम काट दिया जायेगा |

11. प्रशिक्षण शुल्क 1 से 10 तारीख तक जमा करें अन्यथा विलम्ब शुल्क प्रतिदिन पाँच रुपया की दर से देय होगा तथा माह के अंतिम दिन तक शुल्क जमा न करने पर अगले माह से क्लास करने की अनुमति नहीं दी जाएगी |

12. संस्थान की संपत्ति नष्ट करने या चुराए जाने पर प्रशिक्षणार्थी उसकी क्षतिपूर्ति करेंगे |

13. संस्थान में अनुशासन और नैतिकता के प्रतिकूल किसी प्रकार का आचरण केंद्र से निष्कासन का कारण होगा |

14. संस्थान में किमती सामान नही लायें | खोये हुए सामान के प्रति केंद्र उत्तरदायी नहीं होगा |

15. संस्थान में प्रति माह मासिक परीक्षा एवं तीन माह पर त्रैमासिक परीक्षा होगी | परीक्षा फल पर पिता या अभिभावक का हस्ताक्षर होना अनिवार्य है | भारत सरका रद्वारा प्रशिक्षण अवधि में 4 सेमेस्टर की परीक्षा होगी जो प्रत्ये क 6 माह पर होगी | 

16. केंद्र में नामांकन के समय मूल अंक पत्र एवं स्कूल या कॉलेज परित्याग प्रमाण पत्र जमा करना अनिवार्य है |

17. प्रशिक्षण समाप्त होने के पूर्व जमा मूल प्रमाण – पत्र नहीं लौटाया जायेगा | विशेष परिस्थिति में पूर्ण प्रशिक्षण शुल्क जमा करने के बाद ही मूल प्रमाण – पत्र लौटाने पर विचार किया जायेगा |

18. मूल प्रमाण – पत्र जमा करने से पूर्व आवश्यकतानुसार फोटो स्टेट कराकर रख लें |

19. नामांकन होने के बाद नामांकन शुल्क या अन्य शुल्क किसी भी परिस्थिति में लौटाने या स्थानांतरित करने का प्रावधान नहीं है।

20. संस्थान में पुस्तकालय उपलब्ध है।संस्थान में जमा राशि 100 रु (Security) के रूप में जमा करने के बाद पुस्तकें दी जायेगी।जमा राशि प्रशिक्षण अवधि समाप्त होने के बाद लौटाई जायेगी।

21. आपके द्वारा जमा किया गया सभी मूल – प्रमाण – पत्रों का सत्यापन कराया जाएगा।गलत या जाली प्रमाण-पत्र धारकों को संस्थान से निष्काषित करते हुए उसके ऊपर कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

22. जाती-प्रमाण पत्र जिलाधिकारी, अनुमंडलाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, जिला कल्याण पदाधिकारी द्वारा निर्गत मान्य होगा।

23. नामांकन के लिए उपस्थिति के समय किसी प्रकार का यात्रा भत्ता देय नहीं होगा।

24. कौशनमनी, आई०टी०आई का प्रमाण-पत्र प्राप्त करते समय लौटाया जाएगा। बशर्ते संस्थान का कोई सामान टुटा या भूला नहीं हो। बीच में संस्थान छोड़ने पर कौशानमनी भी वापस नहीं होगा।

25. संस्थान द्वारा दूर से आने जाने वाले प्रशिक्षणार्थियों हेतु रेलवे रियायती फॉर्म उपलब्ध कराया जाता है।

26. कल्याण विभाग (बिहार सरकार) द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को छात्रवृत्ति भी दी जाती है।

27. विशेष प्राचार्य के आदेश से लागू होगा।